मुनीर अहमद मोमिन 

भिवंडी मनपा क्षेत्र में कचरा उठाने वाली बोरीवली (मुंबई) की मुख्य ठेकेदार कंपनी मेसर्स आर एंड बी इंफ्रा प्रोजेक्ट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा शहर का कचरा उठाने वाले उप ठेकेदारों को पिछले 8 से 11 माह तक का भुगतान न करने के कारण जहां प्रभाग समिति क्रमांक 1, 3, 4 और 5 के उप ठेकेदार 2 दिन से और प्रभाग समिति क्रमांक 2 के उप ठेकेदार 3 दिन से हड़ताल पर हैं।  जिसके कारण पूरे शहर में यत्र-तत्र-सर्वत्र कचरे का अंबार और गंदगी का साम्राज्य स्थापित हो गया है। मजे की बात तो यह है कि मनपा आयुक्त ने तो ले-देकर उक्त मुख्य ठेकेदार कंपनी को भुगतान तो कर दिया है। लेकिन मुख्य ठेकेदार कंपनी द्वारा अपने सब कांट्रैक्टरों का भुगतान पिछले आठ माह से लेकर 11 माह तक का भुगतान नहीं किया गया है। 

            इस तरह भिवंडी मनपा के प्रशासक व आयुक्त अजय वैद्य की घोर लापरवाही और और अदूरदर्शिता के चलते कल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस जैसे शुभ राष्ट्रीय पर्व पर भी पूरे शहर में मानो गंदगी और कचरे का प्रदर्शनी लगेगी। औद्योगिक और झोपड़पट्टी बहुल शहर होने के कारण भिवंडी शहर में वैसे ही शहर के चहुं ओर गंदगी व्याप्त होने के साथ वातावरण में दुर्गंध फैला हुआ है। जिससे लोगों के लिए स्वास्थ्य और जीवन को लेकर तरह-तरह की संक्रामक बीमारियों का खतरा पैदा हो गया है। बताया जाता है की मनपा प्रशासन की मिली भगत से अपना भुगतान झटकने के बावजूद सब ठेकेदारों का भुगतान बकाया रखने के कारण कचरा उठाने में लगी 15 जेसीबी, 25 डंपर, 20 आरसी गाड़ी, 40 निजी और 50 मनपा की मिलाकर कुल 90 घंटा गाड़ियां मनपा आयुक्त अजय वैद्य का घंटा बजाते हुए हड़ताल पर चली गई हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

error: Content is protected !!